PRANAV BHARDWAJ
Motivational Speaker / Writer

दोस्तो, मेरी हमेशा से यही कोशिश रही कि मैं कुछ ऐसा करूँ, जिससे देश/समाज में रचनात्मक व सकारात्मक परिवर्तन (Creative & Positive change) आ सके। मैंने अपनी इसी सोच के तहत परम पिता परमेश्वर के आशीर्वाद से यह website बनायी है.......

Read More....

Like Us On Face Book Page
kamaal
Artical HindiLifePersonality DevelopmentPower Of ThinkingSelf Improvmentअमीर कैसे बने

सफलता की राह में आने वाली रुकावटें : Success Barriers

By on April 19th, 2017

 

सफलता की राह में आने वाली रुकावटें / अडचनें / अवरोध 

Success Barriers

 

दोस्तो,

       अगर आप दस लोगों से यह सवाल पूछो कि “ आप में से कितने लोग  सफल, सुखी और संपन्न जिन्दगी जीना चाहते हैं ??? ”

       तो मैं यकीन के साथ यह कह सकता हूँ कि, सभी दस के दस लोग बिना समय गंवाएं, एक स्वर में कहेंगे कि हाँ, हम सभी लोग सफल जीवन ( successful life ) जीना चाहते हैं !

इसका मतलब स्पष्ट है कि, कोई भी व्यक्ति असफल जीवन नहीं जीना चाहता !!!

       तो फिर आखिर ऐसा कौन सा कारण है कि, दुनिया मैं असफल लोगों की संख्या दिन प्रति दिन बढती ही जा रही है ! और बहुत कम लोग ही सफल सुखी और संपन्न जीवन जी रहे हैं ???

दोस्तो,

        यदि आप भी सफल लोगों की List में अपना नाम दर्ज कराना चाहते हैं, तो आपको न सिर्फ सफलता की राह में आने वाली रुकावटों को पहचानना होगा बल्कि जितना जल्दी हो सके इन रुकावटों को स्वयं से दूर भी करना होगा : तभी आप सफल, सुखद और सम्पन्न जीवन की मजबूत आधार-शिला रख सकते हैं !!!

तो आइये ! उन अवरोधों  (hurdles) को दूर करें और स्वयं को सफल जीवन का साक्षी बनाएं…..

  • आपका बुरा स्वास्थ्य : दोस्तो, यदि आपका शरीर स्वस्थ (healthy body) है, तो आप दुनिया के सबसे दौलतमंद इंसान (richest person) हैं ! लेकिन यदि आपका स्वास्थ्य ठीक नहीं है, तो आप सभी सुख – सुविधाओं के होते हुए भी खुश (happy) नहीं रह सकते ! अतः यदि आप सफल होना चाहते हैं, तो सर्वप्रथम अपने स्वास्थ्य की रक्षा कीजिए और जितनी जल्दी हो सके अपने आपको स्वस्थ बनाइये क्यूंकि सफलता के लिए आपका स्वस्थ होना : परम आवश्यक है !  ( दुनिया का सबसे अनमोल खज़ाना …………..हमारी सेहत )
  • आपका कमजोर आत्म-विश्वास : आपकी सफलता पूरी तरह से आपके आत्म – विश्वास (self- confidence) पर ही निर्भर करती है ! यदि आपको स्वयं पर विश्वास है (believe on yourself) , तो दुनिया की कोई भी त्ताकत आपको सफल होने से नहीं रोक सकती ! अतः जितना जल्दी हो सके, स्वयं पर विश्वास करना सीखिए और अपनी सफलता निश्चित कीजिए !!!  ( कैसे बढ़ाएं अपना आत्म-विश्वास ??? )
  • आपका नजरिया : जीवन के प्रति आपका नजरिया कैसा है ? यदि आपका नजरिया सकारात्मक (positive attitute) है, तो आप भयंकर से भयंकर परेशानी में भी स्वयं के लिए एक सुनहरा अवसर खोज लेंगे लेकिन यदि आपका नजरिया नकारात्मक है तो आपको छोटी से छोटी परेशानी भी बहुत बड़ी दिखाई देगी – और आप चाह कर भी सफल नहीं हो पायेंगे ! अतः सकारात्मक नजरिया अपनाइए और अपना जीवन सफल बनाइये !!!  ( हमारा नजरिया )
  • आपके कमजोर विचार : सफलता या असफलता का सीधा सम्बन्ध हमारे विचारों (thoughts) से है ! अच्छे और सकारात्मक विचार : जहाँ हमारी सफलता सुनिश्चित करते हैं, वहीँ कमजोर और नकारत्मक विचार हमें सफलता से दूर और बहुत दूर ले जाते हैं ! ( विचारों से संवारें… अपनी जिंदगी  )
  • समय का दुरूपयोग : सफलता की राह में यह सबसे बड़ी रूकावट है ! इस आदत के कारण कोई भी योग्य व्यक्ति, सफलता से कोसों दूर चला जाता है जबकि समय (time management) का सदुपयोग करके, कोई भी कम योग्य और कम सुविधा सम्पन्न व्यक्ति सफलता की न भुलाने वाली कहानी लिख देता है !!! ( कैसे करें —- समय से दोस्ती )
  • खुद से बात न करना : आज के भौतिकता-वादी युग में, हम कहीं न कहीं स्वयं से दूर होते चले जा रहे हैं ! आज हमारे पास सभी से बात करने और सभी शौक-मौज पूरी करने के लिए पर्याप्त से कहीं ज्यादा समय है, लेकिन हमारे पास स्वयं से बात करने का समय नहीं है !   ( SELF – EVALUATION ( स्व – मूल्यांकन )
  • आपकी निर्णय क्षमता : दोस्तो, कभी-कभी जीवन में कुछ ऐसे अवसर आते हैं, जब हमको निर्णय लेना होता है ! उस स्थिति में हमारा उचित निर्णय (dicision making capability) ही, हमें त्वरित गति से सफलता की ओर ले जाता है !!! इसके विपरीत…..       ( सही निर्णय : कैसे करें ??? )                             
  • निश्चित लक्ष्य का अभाव : दोस्तो, यदि हम अपने लिए कोई लक्ष्य ही नहीं बनायेंगे, तो हम कैसे उचित परिणाम की अपेक्षा कर सकते हैं ! स्पष्ट लक्ष्य (clear vision) के अभाव में हमारा जीवन घडी में लटके उस पेंडुलम के समान हो जाएगा जो चलता तो पूरे दिन है लेकिन पहुँचता कहीं नहीं ! हमारी सारी ऊर्जा  (energy) बेकार हो जाएगी ! अतः अपने लिए एक स्पष्ट लक्ष्य तय कीजिए !         ( सही राह… कैसे चुनें ???
  • टाल-मटोल की आदत / आलस (laziness) : यह वो गन्दी आदत है, जो लगभग 90 % लोगों में पायी जाती है ! सफलता के लिए यह अति आवश्यक है कि हम जल्दी से जल्दी इस गन्दी आदत पर विजय पा लें !!!
  • Overthinking : कभी-कभी, हम किसी विषय पर इतना अधिक सोचते हैं कि हमारे हाथ आया अनमोल अवसर निकल जाता है, और फिर पछताने के अलावा हमारे पास कोई विकल्प नहीं बचता !
  • हमारा अनचाहा डर : दोस्तो, हम जब भी कोई नया काम करना चाहते हैं : मन में सौ तरह के सवाल उठने लगते हैं (कल क्या होगा ? लोग क्या कहेंगे ? यदि मैं असफल हो गया तो और न जाने कितने सवाल) और हम उन सवालो और if / but (किन्तु / परन्तु) में ऐसे उलझ जाते हैं : कि चाह कर भी उस भंवर-जाल से नहीं निकल जाते ! इस सब का परिणाम यह होता है, कि हम कोई नया काम शुरू करने से पहले ही अपनी हार स्वीकार कर लेते हैं और स्वयं ही अपनी असफलता सुनिश्चित कर लेते हैं !!! और फिर पूरी जिंदगी इस बात को लेकर परेशान रहते हैं कि, काश मैंने उस समय ऐसा कर लिया होता या वैसा कर लिया होता तो आज……
  • समय के साथ न चल पाना : दोस्तो, आज समय बहुत तेजी से बदल रहा है ! अतः यदि हमें सफल होना है, तो हमें न सिर्फ समय के साथ चलना होगा बल्कि हमें समय से दो कदम आगे चलना होगा !   ( मैं समय हूँ )
  • समाधान की बजाय शिकायतों में उलझे रहना : कुछ लोग अक्सर ही कोई न कोई शिकायत करते रहते हैं ! उनको हर चीज, हर परिश्थिति में शिकायत ही शिकायत (problems) नजर आती है ! इसीलिए वो जीवन में असफल ही रहते हैं !   ( समस्या v/s समाधान
  • बहाने तलाशते रहना : अक्सर असफल लोग, अपनी असफलता (ailure) के लिए और लोगों / परिश्थितियों / या किसी अन्य कारण को दोषी ठहराते हैं ! जबकि वो यह, भूल जाते हैं कि इन्हीं परिस्थितियों में, इन्हीं लोगों के बीच, और लोगों ने सफलता कि जबरजस्त कहानियाँ लिखीं हैं !   ( बहानों को कहिये ………bye – bye )
  • आपका व्यवहार : दोस्तो, आपकी सफलता में आपका व्यवहार (your good behaviour) बहुत ही निर्णायक भूमिका निभाता है ! आपका अच्छा व्यवहार ही : आपको सफलता के करीब और बहुत करीब ले जाता है !!!  ( क्रोध से कैसे रहें दूर ??? )
  • आपकी भाषा-कौशल : आपका way of talking, ऐसा होना चाहिए जिसके जरिये आप न सिर्फ अपनी बात को उचित तरह से लोगों के बीच पंहुंचा सकें बल्कि आप अपनी बात से वो परिणाम भी हासिल कर सकें जो आप पाना चाहते हैं ! इसकी ताकत का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि अपनी भाषा-कौशल  (communication-skills) की बदौलत ही आज हमारे आदरणीय प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी जी जन-जन के प्रिय नेता बन गये हैं !!!

 

दोस्तो,

          सफलता एक बहुत बड़ा आयाम है ! सफल होने के लिए, कोई एक रास्ता या कोई सिद्धांत (method) नहीं बताया जा सकता लेकिन यदि आप उपरोक्त अवरोधों को, दूर करके पूरी एकाग्रता , पूरे समर्पण भाव (dedication)और ईमानदारी (honesty) से अपने लक्ष्य की तरफ आगे बढ़ेंगे तो आप न सिर्फ अपना लक्ष्य हासिल करेंगे बल्कि सफलता की इतनी विराट और भव्य कहानी लिखेंगे जिस पर आपको भी विश्वास नहीं होगा !

        तो आइये ! असफलता की इस भूल-भुलैया से निकल कर सफल जीवन की ओर बढ़ें और एक सुखी, सफल और सम्पन्न जीवन के मालिक बनें और अपनी किस्मत खुद लिखें !!!  

 

आपके सुखी और स्वस्थ जीवन का आकांक्षी….

आपका अपना मित्र 

Pranav Bhardwaj 


खुला आमंत्रण


 

दोस्तो, 
        यदि, आपके पास Hindi/English या Hinglish में कोई  motivational story, article, कविता, idea, essay, real life experience या कोई जानकारी  या  कुछ  भी ऐसा जिसे पढ़कर कुछ अच्छी सीख मिले ( चाहें वो आपके अपने मन से वयक्त किये गए हों या आपने कहीं पढ़े हों ) ……………… 

        जिसे आप हमसे share करना चाहते हैं ।

        तो, आप अपना कंटेंट (content) मुझे  info@motivatemyindia.com  पर mail कर सकते हैं  आपसे अनुरोध है कि (content) के साथ अपना एक फोटो भी भेजें।

        पसंद आने पर आपका कंटेंट जल्दी ही आपकी फोटो के साथ पर आपकी अपनी websitewww.motivatemyindia.com प्रकाशित कर दिया जाएगा ।  

धन्यवाद!!!

 

 

 

 

 

 

 

TAGS
RELATED POSTS

3 Comments on सफलता की राह में आने वाली रुकावटें : Success Barriers

Ketan Danidhariya said : Guest Report 6 months ago

बहुत ही बढ़िया लिखा है आपने www.supportmeyaar.com

Pranav Bhardwaj (Author) said : administrator Report 6 months ago

thanks sir  pls. share this if possible.

Anil Sahu said : Guest Report 6 months ago

प्रणव जी, आपकी लेखनी में कमाल है. इसी तरह से लिखते रहिये और दूसरों की जिंदगी संवारते रहिये.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked