PRANAV BHARDWAJ
Motivational Speaker / Writer

दोस्तो, मेरी हमेशा से यही कोशिश रही कि मैं कुछ ऐसा करूँ, जिससे देश/समाज में रचनात्मक व सकारात्मक परिवर्तन (Creative & Positive change) आ सके। मैंने अपनी इसी सोच के तहत परम पिता परमेश्वर के आशीर्वाद से यह website बनायी है.......

Read More....

Like Us On Face Book Page
be-happy

 

Be Happy Always : But HOW ???

 

दोस्तो,

        नव वर्ष 2017 का शुभ आगमन, होने को है ! Mobile, Social Media ( fb / what’sup ) के जरिये शुभकामनाओं का दौर शुरू हो चुका है ! हर तरफ एक ही बात सुनने को मिलती है – Wish You & Your Family a Very Happy New Year.

        ऐसा लगता है कि, जब इतनी शुभकामनायें मिल रही है, इतना आशीष मिल रहा है, इतना प्रेम मिल रहा है, तो सच में हमारा आने वाला वर्ष / समय Happy ही होगा ! हमारी जिंदगी, एक दम से खुश-हाल बन जाएगी ! लेकिन जैसे-जैसे समय बीतता है, (लगभग 10 jan 2017 तक ) वैसे-वैसे जिन्दगी पहले जैसी ही लगने लगती है ! वो नयापन (New) और Happiness कहीं खो सी जाती है !

        इससे भी आश्चर्य की बात यह है कि, अधिकांश (90%) लोगों के जीवन का एक ही मकसद होता है – खुश रहना और सभी लोग उसी दिशा में काम भी करते हैं ! लेकिन फिर भी हम यह देखते हैं कि, लाख कोशिशों के बाद भी हम ज्यादा समय के लिए खुश नहीं रह पाते !

आखिर क्या कारण है कि हमारी जिंदगी में — खुशियों के पल बस कुछ समय के लिए ही आते हैं और बाकी की जिंदगी……

दोस्तो,

        यदि आप सच में, अपने इस अमूल्य जीवन को ख़ुशी – ख़ुशी जीना चाहते हो, और इस Happiness को हमेशा के लिए अपने साथ रखना चाहते हो, तो आपको कुछ बातों को अपने जीवन में अपनाना होगा…..

 

  • स्वयं से बात करें (Talk to Yourself) :—

दोस्तो,

          आज हमारा ज्यादातर समय, अपने दोस्तों (Boy / Girl Friend, facebook / whats up friends आदि ) से बात करने में गुजरता है ! ऐसे दोस्त, जिनको हम जानते भी नहीं, जिनको हमने कभी देखा ही नहीं (social media friends), लेकिन फिर भी हम उनसे बड़ी उत्सुकता से बात करते हैं, लेकिन इन सबके बीच हम अपने सबसे बड़े और Important दोस्त को ही, भूल ही जाते हैं ! हम यह भूल जाते हैं कि उसे क्या पसंद है ? वो वाकई में क्या चाहता है ? उसे किस काम में ख़ुशी मिलती है ?

वो सबसे ख़ास दोस्त है – हम स्वयं / we, our-self.

          यदि आप सच में खुश रहना चाहते हो, तो सबसे पहले स्वयं से दोस्ती कीजिए ! अपने आप को जानने, पहचानने और समझने की कोशिश कीजिए ! यदि आपने स्वयं को अपना सबसे अच्छा दोस्त बना लिया, तो दुनिया की कोई भी ताकत आपको खुश रहने से नहीं रोक सकती !

  • अपने काम को पूरी ईमानदारी के साथ करें :—

दोस्तो,

       एक बार स्वयं से बात करके, आप अपने लिए एक रास्ता चुनें और उस रास्ते पर पूरी ईमानदारी के साथ आगे बढ़ें ! जो भी कार्य, आप करें (चाहे वो छोटा / बड़ा हो) लेकिन आप उस काम को पूरी ईमानदारी के साथ करें ! अपने कार्य में खुद को, पूरी तरह से (तन, मन, धन) से समर्पित कर दें !

       ऐसा करके, आप न सिर्फ अपने काम के पक्के खिलाड़ी बन जाओगे बल्कि आप अपने काम से इतना मान सम्मान और दौलत पाओगे, जितना आपने सपने में भी नहीं सोचा होगा ! यकीन जानिये, फिर आप जो ख़ुशी पायेंगे वो अद्भुत और अकल्पनीय होगी और आप हमेशा खुश रहेंगे !

  • सही दिनचर्या अपनाकर :—

दोस्तो,

       एक Happy Life के लिए यह अति-आवश्यक है कि, हम एक संतुलित और अनुशासित दिनचर्या अपनाएँ ! व्यायाम और उचित खान-पान को अपने जीवन का अभिन्न अंग बनाएं और अपना हर काम निश्चित समय पर पूरा करें ! उचित दिनचर्या द्वारा हम न सिर्फ अपने सभी कामों को अच्छे से कर पायेंगे बल्कि स्वयं को किसी भी जल्दबाजी / हडबडाहट से होने वाले नुक्सान से भी बचा लेंगे ! सही दिनचर्या से एक तरफ हम स्वस्थ शरीर प्राप्त करेंगे और दूसरी तरफ हमारे कार्य करने की दक्षता ( working efficiency ) में भी जबरजस्त सुधार होगा !

  • एक अच्छे विद्यार्थी बनें :—

दोस्तो,

       एक अच्छे विद्यार्थी की तरह, हमें भी निरंतर नयी – नयी चीजों को सीखने के लिए तैयार रहना चाहिए ! जहाँ से भी – हमें कोई नयी चीज सीखने को मिले, हमें खुले मन से उसे अपनाना चाहिए ! हमें, अपने कार्य-क्षेत्र में – तेजी से हो रहे नए-नए बदलावों को जानना चाहिए और उसी के अनुरूप योजना बनाकर जीवन में आगे बढ़ना चाहिए ! यदि हम निरंतर अपने कार्य और व्यवहार (behaviour) में सुधार करते रहेंगे तो हम न सिर्फ जीवन में प्रगति करेंगे बल्कि अपने जीवन को खुश-हाल भी बना लेंगे !

  • समय का पूरा सदुपयोग करते हुए वर्तमान में जीयें :—

दोस्तो,

        अधिकाँश लोग, अपना कीमती समय, यही सोचने में बर्बाद कर देते हैं कि “आने वाले समय में क्या होगा” ? और जब समय बीत जाता है, तो वो यह सोचते हैं कि काश ! मैंने अपने बीते हुए समय में यह कर लिया होता या वो कर लिया होता तो आज मैं एक बेहतर स्थिति में होता — अर्थात हममें से अधिकाँश लोग, या तो अपने बीते हुए कल में जीना चाहते हैं या बेहतर भविष्य की कल्पना में — लेकिन यदि आप हमेशा के लिए खुश रहना चाहते हैं, तो आपको अपने वर्तमान में जीना होगा ! आपको अपने भूतकाल से सबक लेकर, भविष्य की चिंता को दूर रखकर अपने वर्तमान को अच्छा बनाना होगा ! तो आइये, समय का पूरा सदुपयोग करते हुए अपने वर्तमान को शानदार और बेहतरीन बनाने की कोशिश करें !

  • निस्वार्थ भाव से रिश्तों को निभाइए :—

दोस्तो,

        रिश्तों का हमारे जीवन में एक अभिन्न स्थान होता है ! कामयाब जीवन के लिए यह आवश्यक है कि आप, अपने सभी रिश्तों को पूरी निष्ठा और ईमानदारी से निभाएं लेकिन यहाँ याद रखने वाली बात यह है कि किसी भी रिश्ते को निभाने के बदले में, आप — उस रिश्ते से किसी भी तरह की कोई आशा या अपेक्षा (expectation) न रखें  क्यूंकि यदि आप किसी से कोई आशा रखेंगे और यदि वो पूरी न हो पाए, तो आपके अंतर्मन को बहुत चोट पहुंचेगी ! उस स्थिति में, सब कुछ होते हुए भी आप खुश नहीं रह पायेंगे !

  • उचित व्यवहार अपनाकर :

दोस्तो,

        आप अपना व्यवहार उचित बनाये रखिये ! इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ना चाहिए कि आप किसी गरीब व्यक्ति से बात कर रहें हैं या किसी अमीर से ! बच्चे से या बुजुर्ग से, आपको सभी से एक समान, और प्रेम-पूर्वक पेश आना चाहिए ! इसके अलावा, हमें अपने बड़े-बुजर्गों का पूरा मान-सम्मान करना चाहिए ! उनकी सेवा कर, उनका आशीष प्राप्त करना चाहिए ! भूल कर भी, किसी के साथ गलत व्यवहार नहीं करना चाहिए !

  • दूसरों की मदद करके :—

दोस्तो,

        यदि आप इस स्थिति में हैं कि आप किसी की मदद कर सकते हैं ( आर्थिक / शारीरिक ), तो आपको मदद अवश्य करनी चाहिए ! लेकिन आपकी मदद दिखावटी या केवल Photo session के लिए नहीं होनी चाहिए ! निस्वार्थ भाव से किसी की मदद करने से आपको जो ख़ुशी मिलेगी, आप उसकी कल्पना भी नहीं कर सकते !

  • जितनी चादर उतने पैर फैलाइए :—-

दोस्तो,

        बहुत से लोग, समाज में अपनी झूठी शान और दिखावा करने के चक्कर में, अपनी हैसियत / आमंदनी से कहीं बहत अधिक खर्च कर देते हैं ! और कर्ज के मकड़ – जाल में उलझते चले जाते हैं ! वो यह भूल जाते हैं कि आज, वो जो अनाप-शनाप पैसा खर्च कर रहे हैं — कल उनको वो पैसा चुकाना भी होगा ! तो उतना ही खर्च कीजिए, जितनी आपकी सामर्थ्य हो अन्यथा आप चाहकर भी खुश नहीं रह पाएंगे !

  • विचारों को श्रेष्ठ बनाकर :—-

दोस्तो,

         हमारी ख़ुशी, बहुत हद तक हमारे स्वयं के ऊपर भी निर्भर करती है ! बहुत से ऐसे लोग होते हैं, जो हर तरह से सुखी और सम्पन्न होते हुए भी खुश नहीं रह पाते जबकि कुछ लोग धन-धान्य से उतने समपन्न नहीं होते लेकिन फिर भी बहुत खुश होते हैं ! तो अच्छी किताबों और अच्छे लोगों को अपना साथी बनाइये और अपने विचारों को श्रेष्ठ बनाइये !

  • चरित्र सँवार कर :—-

दोस्तो,                             

         ऐसा कहा जाता है कि,

" When wealth is lost, nothing is lost

when health is lost, something is lost

when character is lost, all is lost. "
 

          हमारी कोशिश यह रहनी चाहिए कि हम पर कभी भी चोरी, भ्रष्टाचार corruption, दहेज़ लोभी, व्यभिचारी, काम-चोर या किसी अन्य तरह का कोई भी आरोप नहीं लगना चाहिए ! हमारा जीवन पूरी तरह से निष्कलंक होना चाहिए ! हमें किसी भी कीमत पर अपने चरित्र की रक्षा करनी चाहिये !

  • आत्म – निर्भर बने :—-

दोस्तो,

        एक बहुत ही प्रचलित कहावत है कि  “ पराधीन सपनेहूँ, सुख नाहिं

अतः, यदि आप सच में खुश रहना चाहते हो, तो आपको जितनी जल्दी हो सके उतनी जल्दी स्वयं को आत्म निर्भर (self – dependent) बनाना होगा, तभी आप सच्चे अर्थों में खुश रह पायेंगे !

        यदि आप ऊपर बताये गये विचारों को अपने जीवन में उचित जगह देंगे, तो आप न सिर्फ इस आने वाले YEAR को HAPPY NEW YEAR बनायेंगे बल्कि आप अपने हर year, month, week, day, hour, minute, second को happy, happier और happiest बना लेंगे !

        और ख़ुशी (happiness) से, हमेशा-हमेशा के लिए अपनी दोस्ती पक्की कर लेंगे !

 

          तो आइये ! अपने जीवन के हर पल को Happy बनायें और पूरे उत्साह-उमंग-विश्वास के साथ खुद से कहें……

 

“ Be Happy Always ”

 

          और हमेशा खुश रहते हुए एक सुखी, सम्पन्न और कामयाब जीवन का आनंद उठायें !

 

दोस्तो,

        आपकी अपनी website : www.motivatemyindia.com की तरफ से आपको और आपके प्यारे परिवार को नव वर्ष 2017 की हार्दिक शुभकामनायें !!!

 

आपका अपना मित्र

PRANAV BHARDWAJ


खुला आमंत्रण


 

दोस्तो, 
        यदि, आपके पास Hindi/English या Hinglish में कोई  motivational story, article, कविता, idea, essay, real life experience या कोई जानकारी  या  कुछ  भी ऐसा जिसे पढ़कर कुछ अच्छी सीख मिले ( चाहें वो आपके अपने मन से वयक्त किये गए हों या आपने कहीं पढ़े हों ) ……………… 

        जिसे आप हमसे share करना चाहते हैं ।

        तो, आप अपना कंटेंट (content) मुझे  info@motivatemyindia.com  पर mail कर सकते हैं  आपसे अनुरोध है कि (content) के साथ अपना एक फोटो भी भेजें।

        पसंद आने पर आपका कंटेंट जल्दी ही आपकी फोटो के साथ पर आपकी अपनी websitewww.motivatemyindia.com प्रकाशित कर दिया जाएगा ।  

धन्यवाद!!!

 

TAGS
RELATED POSTS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked