PRANAV BHARDWAJ
Motivational Speaker / Writer

दोस्तो, मेरी हमेशा से यही कोशिश रही कि मैं कुछ ऐसा करूँ, जिससे देश/समाज में रचनात्मक व सकारात्मक परिवर्तन (Creative & Positive change) आ सके। मैंने अपनी इसी सोच के तहत परम पिता परमेश्वर के आशीर्वाद से यह website बनायी है.......

Read More....

Like Us On Face Book Page
soch
Maan Ki BaatMoral StoryPower Of Thinking

Jaisi Jiski Soch

By on January 15th, 2016

दोस्तो,

       एक बार भगवान् शिव और माँ पार्वती आकाश मार्ग से जा रहे थे । रास्ते में माँ पार्वती ने पृथ्वी की ओर देखा, तो उन्हें एक परिवार दिखाई दिया । पिता को कुष्ठ रोग था, माँ का आधा चेहरा जला हुआ था और उनका लड़का लंगड़ाकर चल रहा था । परिवार की इतनी दयनीय स्थिति देखकर, माँ पार्वती को उन पर दया आ गयी ।

      माँ पार्वती, भगवान् शिव से अनुनय करती हुई बोली “प्रभु! आप तो सर्व शक्तिमान हैं, आप इन पीडितों का कल्याण क्यों नहीं करते?” भगवान् शिव उत्तर में केवल मुस्कुराये और बोले “देवी!आप जैसा कहें, वैसे इनको सहायता प्रदान कर देते हैं ” 

      माँ पार्वती के कहने पर भगवान् शिव उनको एक-एक वरदान देने पर राजी हो गये ।

      भगवान् शिव-माँ पार्वती परिवार के समक्ष प्रकट हुए और सबसे पहले महिला से बोले की वह अपनी इच्छानुसार वरदान मांग    ले । महिला यह सुनकर बहुत खुश हुई ।

      महिला बोली – भगवान् आप मुझे दुनिया की सबसे सुन्दर महिला बना दें ।

      प्रभु के तथास्तु कहते ही वो महिला सुन्दर युवती में बदल गयी । उसका पति यह देखकर मन ही मन कुढने लगा । उससे अपनी पत्नि की ख़ुशी सहन नहीं हो रही थी। अब वरदान मांगने की बारी उसी की थी ।

      उसने माँगा “ भगवान् मेरी पत्नि को कुरूप राक्षसी में बदल दो । ये इच्छा भी पूरी हो गयी । उनका बच्चा अपनी माँ का रूप देखकर रोने लगा । उससे वरदान मांगने को कहा तो वह रोते रोते बोला-“ भगवान्! मेरी माँ जैसी थी उसको वैसा ही बना दो ।

      उसकी माँ अपने आधे जले चेहरे के साथ वापस आ गयी । तीनो वरदान भी मांग लिए गये, पर स्थिति वैसी की वैसी ही रही ।

      वहां से लौटते हुए भगवान् शिव, माँ पार्वती से बोले “ देवी! इस संसार में हर व्यक्ति अपनी मन:स्थिति(जैसा वो सोचता है) के अनुसार स्थान पाता है । भगवान् भी उन्हीं की सहायता करते हैं, जो अपनी सहायता आप करने को तैयार रहते हैं

 


खुला आमंत्रण


 

दोस्तो, 
        यदि, आपके पास Hindi/English या Hinglish में कोई  motivational story, article, कविता, idea, essay, real life experience या कोई जानकारी  या  कुछ  भी ऐसा जिसे पढ़कर कुछ अच्छी सीख मिले ( चाहें वो आपके अपने मन से वयक्त किये गए हों या आपने कहीं पढ़े हों ) ……………… 

        जिसे आप हमसे share करना चाहते हैं ।

        तो, आप अपना कंटेंट (content) मुझे  info@motivatemyindia.com  पर mail कर सकते हैं  आपसे अनुरोध है कि (content) के साथ अपना एक फोटो भी भेजें।

        पसंद आने पर आपका कंटेंट जल्दी ही आपकी फोटो के साथ पर आपकी अपनी websitewww.motivatemyindia.com प्रकाशित कर दिया जाएगा ।  

धन्यवाद!!!

 

TAGS
RELATED POSTS

2 Comments on Jaisi Jiski Soch

ROHIT BHARDWAJ said : Guest Report 2 years ago

mujhe pdne k bad bhut acha lga sir

POOJA SHARMA said : Guest Report 2 years ago

Your positive contribution towards our society is superb. May u get success in ur future

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked